Nobel Prize – 2020

1
13

नोबेल पुरस्कार(Nobel Prize) – 2020 :-

नमस्कार दोस्तों,
 Online Notes Store में आपका हार्दिक स्वागत है,आज की हमारी यह पोस्ट नोबेल पुरस्कार से सन्बन्धित है , इस पोस्ट में हम आपको  Nobel Prize से जुडी सभी प्रकार की जानकारी  उपलब्ध कराऐंगेजो विशेष रूप से SSC, BANK, RAILWAY, IAS, PCS, NDA, CDS और विभिन्न  Competitive Exam 2020- 21 के लिये पढना अत्यंत आवश्यक है

नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize)

  • शुरुआत नोबेल पुरस्कार की शुरुआत ‘नोबेल फाउंडेशन द्वारा की गई यह पुरस्कार स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड बेर्नहार्ड नोबेल के नाम पर दिया जाता है
  • नोबेल फाउंडेशन की स्थापना सन -29 जून 1900
  • नोबेल पुरस्कार की शुरुआत सन-1901
  • फाउंडेशन का उद्देश्य नोबेल प्राइज का आर्थिक संचालन करना है.
  • इस फाउंडेशन में कुल पांच लोग होते हैं
  • इस फाउंडेशन के मुखिया का चयन स्वीडन का किंग ऑफ काउंसिल करता है.
  • हर साल अक्टूबर में नोबेल पुरस्कार का ऐलान होता है तथा 10 दिसंबर को पुरस्कार प्रदान किया  जाता है.
  • 10 दिसंबर को अल्फ्रेड नोबेल की पुण्यतिथि होती है.
  • इस  पुरस्कार के रूप में 23 कैरेट सोने के बने 200 ग्राम के पदक प्रशस्ति पत्र के साथ एक करोड़ स्वीडिश क्रोना(10लाख डॉलर) की राशि दी जाती है 
  • नोबेल फाउंडेशन के कार्यकारी निदेशक लार्स हाइकेंस्टन ने कहा”इस साल पुरस्कार के तहत एक करोड़ स्वीडिश क्रोनर (11 लाख डॉलर) की राशि दी जाएगी”
  • क्षेत्र – नोबेल पुरस्कार 6 क्षेत्रों में दिया जाता है
  1.  भौतिकी
  2. रसायन विज्ञान
  3. चिकित्सा विज्ञान
  4. साहित्य
  5. अर्थशास्त्र
  6. शान्ति
  • यह पुरस्कार इन 6 क्षेत्रों का सर्वोच्च पुरस्कार है  
  • रॉयल स्वीडिश अकैडमी ऑफ साइंसेज फिजिक्स, केमिस्ट्री  में नोबेल पुरस्कार विजेताओं का चयन करती है।
  • स्वीडिश रॉयल कैरोलिन मेडिको-सर्जिकल इंस्टिट्यूट चिकित्सा के क्षेत्र में विजेताओं के नाम की घोषणा करता है।
  • स्वीडिश अकैडमी साहित्य के क्षेत्र में नोबल पुरस्कारों की घोषणा करती है।
  • नार्वे पार्लियामेंट्स अवार्ड्स शांति के क्षेत्र में नोबल पुरस्कारों की घोषणा करती है।
  • शांति के लिए दिए जाने वाला पुरस्कार ओस्लो में जबकि बाकी सभी अवार्ड स्टॉकहोम में दिए जाते हैं.
  • किसी एक क्षेत्र में एक साल में अधिकतम 3 लोगों को अवार्ड दिया जा सकता है.
  • अगर एक ही पुरस्कार 2 व्यक्तियों को सांझा रूप से मिला है तो धनराशि दोनों में बांटी जाएगी.
  • अर्थशास्त्र में यह पुरस्कार प्रथम बार 1968 में दिया गया
  • अल्फ्रेड नोबेल ने अपने जीवन में कुल 355 आविष्कार किये
  • पहला नोबेल शांति पुरस्कार- 1901 में हेनरी ड्युनेंट( रेड क्रॉस के संस्थापक) और  फ्रेडरिक पैसी (फ़्रेंच पीस सोसाइटी के संस्थापक) को संयुक्त रूप से दिया गया।
  • मलाला यूसुफजई(पाकिस्तान,2014) कम उम्र में नोबेल प्राप्त करने वाली विजेता है

1. चिकित्सा का नोबेल- 

5 अक्टूबर को चिकित्सा के क्षेत्र के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की गई। चिकित्सा का नोबेल संयुक्त रूप से तीन वैज्ञानिकों  दो अमेरिकन वैज्ञानिक हार्वे जे ऑल्टर और माइकल हॉफटन व ब्रिटिश वैज्ञानिक चार्ल्स एम राइस को संयुक्त रूप से दिया गया है इन तीनों वैज्ञानिकों ने हैपेटाइटिस सी वायरस की खोज की थी।

हैपेटाइटिस के बारे में – 
हैपेटाइटिस दो ग्रीक शब्दों लिवर और जलन (इन्फ्लेमेशन) से मिलकर बना है। ये बीमारी वायरल इन्फेक्शन से होती है।

कारण – ज्यादा शराब पीना, पर्यावरण में प्रदूषण का ज्यादा स्तर भी इसका कारण होते हैं।

  • 1940 के दशक में हैपेटाइटिस के दो मुख्य प्रकारों का पता चला। हैपेटाइटिस ए प्रदूषित पानी या खाने से होता है। हैपेटाइटिस बी खून और शरीर के फ्लूड से ट्रांसमिट होता है। बीमारी का यह प्रकार काफी घातक होता है, जो आगे जाकर लिवर सिरोसिस और लिवर कैंसर बन जाता है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) के अनुसार  दुनिया में 7 करोड़  हेपेटाइटिस के केस हैं, और हर साल इस बीमारी की वजह से दुनिया में 4 लाख लोगों की मौत होती है.

 2. फिजिक्स  का नोबेल पुरस्कार – 

रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने 6 अक्टूबर को फिजिक्स के नोबेल पुरस्कार 2020 की घोषणा की   ब्लैक होल संबंधी खोज के लिए तीन वैज्ञानिकों को 2020 का भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला है। 

  •  फिजिक्स के लिए साल 2020 का नोबेल पुरस्कार रॉजर पेनरोज(ब्रिटेन) को रेनहार्ड गेंजेल(जर्मनी) और ऐंड्रिया गेज(अमेरिका) के साथ संयुक्त रुप से मिला है।
  • पुरस्कार राशि में से आधा हिस्सा रॉजर पेनरोज को दिया जाएगा और बाकी आधे में से आधी-आधी राशि रेनहार्ड गेंजेल और ऐंड्रिया गेज को मिलेगी।

रॉजर पेनरोज को ब्लैकहोल की खोज के लिए यह अवॉर्ड मिला है।  ब्लैक होल की उत्पत्ति सापेक्षता के ‘सामान्य’ सिद्धांत संबंधी एक मजबूत प्रमाण है। पेनरोसे ने गणितीय आधार पर साबित किया कि ब्लैक होल की उत्पत्ति संभव है और यह पूरी तरह अल्बर्ट आइंस्टीन के सापेक्षता के सामान्य सिद्धांत पर आधारित है।नोबेल समिति के सदस्य उल्फ डेनियलसन के मुताबिक रोजर ने यह कहने के लिए सैद्धांतिक नींव रखी कि यह वस्तुएं (ब्लैक होल) मौजूद हैं। अगर आप उनकी तलाश करें तो उन्हें पा सकते हैं।

रोलर पेनरोज : आइंस्टीन को भी जिस पर यकीन नहीं था, उस ब्लैक होल को साबित किया

रेनहार्ड और ऐंड्रिया को “हमारी आकाशगंगा के केंद्र में ‘सुपरमैसिव कॉम्पैक्ट ऑबजेक्ट” की खोज के लिए यह प्रतिष्ठित पुरस्कार मिला है। तारकीय अवशेषों, श्वेत वामन तारों, न्यूट्रॉन तारों और ब्लैक होल जैसी चीजों को ‘कॉम्पैक्ट ऑबजेक्ट’ कहा जाता है।

 ऐंड्रिया गेज फिजिक्स के नोबेल से सम्मानित होने वाली चौथी महिला हैं।ऐंसे पहले 1903 में मैडम क्यूरी, 1963 में मारिया जियोपर्ट मायर और 2018 में डोना स्ट्रिकलैंड को यह सम्मान मिला था।

 

3. रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार 

स्टॉकहोम में स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने 7 अक्टूबर को रसायन विज्ञान के क्षेत्र में वर्ष 2020 का नोबेल पुरस्कार की घोषणा की।

रसायन विज्ञान के क्षेत्र में वर्ष 2020 का नोबेल पुरस्कार जीनोम एडिटिंग पद्धति का विकास करने के लिये एमैनुएल चारपेंटियर((फ़्रांस) और जेनीफर डॉडना(अमेरिका) को दिया गया है

इस साल पहली बार दो महिला वैज्ञानिकों को रसायन विज्ञान के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया गया है।

जीनोम एडिटिंग,जिसे CRISPR – Cas9 जेनेटिक सीज़र कहा जाता है, एक ऐसी पद्धति है, जिसके जरिये वैज्ञानिक जीव-जंतु के डीएनए में बदलाव करते हैं। यह प्रौद्योगिकी एक कैंची की तरह काम करती है, जो डीएनए को किसी खास स्थान से काटती है। इसके बाद वैज्ञानिक उस स्थान से डीएनए के काटे गये हिस्से को बदलते हैं। “इस तकनीक ने जैविक विज्ञान पर एक क्रांतिकारी प्रभाव डाला है, यह कैंसर के नये-नये उपचार में योगदान दे रहा है और विरासत में मिली बीमारियों को भी दुरुस्त करने के सपना को यह साकार कर सकता है”।

जेनेटिक सीज़र्स: a tool for rewriting the code of life (जीवन चक्र के पुनर्लेखन का एक उपकरण)

इससे पहले अब तक पांच महिलाओं को केमिस्ट्री के लिए नोबेल पुरस्कार मिल चुका है। मैरी क्यूरी एकमात्र ऐसी महिला हैं जिन्हें फिजिक्स और केमिस्ट्री दोनों के लिए नोबेल पुरस्कार मिला है।

अब तक 111 बार केमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार दिया गया है।

4. साहित्य का नोबेल पुरस्कार –

 

  • 8 अक्टूबर, 2020 को स्वीडिश एकेडमी द्वारा साहित्य के लिए 2020 के नोबेल पुरस्कार की घोषणा की गई।
  • इस वर्ष 77 वर्षीया अमेरिकी कवयित्री लुईस ग्लूक को वर्ष 2020 के लिए साहित्य के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। लुइस को उनकी बेमिसाल काव्यात्मक आवाज के लिए यह सम्मान दिया गया है। स्वीडिश एकेडमी के स्थायी सचिव मैट्स माल्म ने स्टॉकहोम में पुरस्कारों की घोषणा करते हुए कहा कि उनकी आवाज खूबसूरत होने के साथ-साथ व्यक्तिगत अस्तित्व को सार्वभौमिक बनाती है।
  • येल विश्वविद्यालय की प्रोफेसर, ग्लुक ने 1968 में ‘फर्स्टबोर्न’ (Firstborn) शीर्षक से अपने संग्रह की शुरुआत की।
  • लुईस ग्लूक के सबसे प्रशंसित संग्रहों में से एक ‘द वाइल्ड आइरिस(The Wild Iris)’ है, जो कि 1992 में प्रकाशित हुआ था। इस संग्रह की एक कविता ‘स्नोड्रॉप्स‘ में उन्होंने सर्दियों के बाद के जीवन की चमत्कारी वापसी का वर्णन किया है।
  • उन्होंने 1993 में अपने संग्रह ‘द वाइल्ड आइरिस(The Wild Iris)’ के लिए पुलित्जर पुरस्कार और 2014 में ‘फेदफुल’ (Faithful) और ‘वर्चुअस नाइट(Virtuous Nigh)” के लिए ‘नेशनल बुक अवार्ड‘ जीता था।
  • लुईस ग्लूक 2016 में बॉब डिलन के बाद यह पुरस्कार जीतने वाली पहली अमेरिकी हैं.
  • साल 2010 से ओल्गा टोकार्चुक (2018), स्वेतलाना अलेक्सीविच (2015) और एलिस मुनरो (2013) के बाद साहित्य का नोबेल पुरस्कार जीतने वाली चौथी महिला हैं। नोबेल की शुरूआत साल 1901 में हुई और तब से लेकर अब तक वह ये सम्मान पाने वाली 16वीं महिला हैं.

 

5. शांति का नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in Peace 2020):

  • नॉर्वेजियन नोबेल समिति ने 9 अक्टूबर, 2020 को संयुक्त राष्ट्र संघ (UN) के विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP)को नोबेल शांति पुरस्कार 2020 से सम्मानित करने की घोषणा की।
  • विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) को यह सम्मान भूख से लड़ने, संघर्ष प्रभावित क्षेत्रों में शांति के लिये स्थितियों को बेहतर बनाने में योगदान देने और युद्ध व संघर्ष में भूख को एक हथियार के रूप में प्रयोग किये जाने से रोकने के प्रयासों में एक प्रेरक शक्ति के रूप में कार्य करने के लिये प्रदान किया गया है।
  • संयुक्त राष्ट्र का विश्व खाद्य कार्यक्रम आपात स्थितियों युद्धों से लेकर नागरिक संघर्षों, प्राकृतिक आपदाओं और अकाल के समय खाद्य सहायता प्रदान करता है।
  • वर्ष 1901 में नोबेल शांति पुरस्कार की स्थापना के बाद से विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) 28वाँ संगठन है जिसे यह सम्मान दिया गया है।
  • यह 12वीं बार है, जब संयुक्त राष्ट्र की एक एजेंसी या व्यक्तित्व को शांति पुरस्कार दिया गया है।

वर्ल्ड फूड प्रोग्राम (WFP) के बारे में:

  • World Food Programme-WFP
  •  स्थापना -1961 
  •  मुख्यालय – रोम (इटली)
  • विश्व खाद्य कार्यक्रम मानव जाति की भलाई के लिए शुरू किया गया एक प्रयास है ताकि दुनिया के सभी राष्ट्र समर्थन और सहायता करने में सक्षम हों।
  • विश्व खाद्य कार्यक्रम का संचालन एक कार्यकारी बोर्ड द्वारा किया जाता है, जिसमें 36 सदस्य देश शामिल होते हैं।
  • इसकी अध्यक्षता एक कार्यकारी निदेशक द्वारा की जाती है, जिसकी नियुक्ति संयुक्त राष्ट्र महासचिव और संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन के महानिदेशक द्वारा की जाती है। कार्यकारी निदेशक को पाँच वर्ष के कार्यकाल के लिये नियुक्त किया जाता है। 
  • संयुक्त राष्ट्र द्वारा वर्ष 2015 में भूख की समस्या को खत्म करने इसे सतत विकास लक्ष्यों में(Sustainable Development Goals-SDG) शामिल किया गया था जिसके तहत वर्ष 2030 तक विश्व भर से भुखमरी की समस्या को समाप्त करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • वर्ल्ड फूड प्रोग्राम दुनिया का सबसे बड़ा मानवीय संगठन है जो भूख के खिलाफ जंग लड़ता है और खाद्य सुरक्षा को बढ़ावा देता है। 2019 में WFP ने 88 देशों में करीब 100 मिलियन लोगों को सहायता प्रदान की।

अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

  • द रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज द्वारा 12 अक्टूबर, 2020 को स्टॉकहोम में  वर्ष 2020 हेतु अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार ,2020 की घोषणा की गई।
  • अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार का घोषणा कर दिया गया है. इस साल अर्थशास्त्र के क्षेत्र में दिया जाने वाला नोबेल पुरस्कार पॉल आर. मिलग्रोम (Paul R. Milgrom) तथा रॉबर्ट बी. विल्सन (Robert B. Wilson) को दिया गया है
  • यह पुरस्कार पॉल आर. मिलग्रोम (Paul R. Milgrom) तथा रॉबर्ट बी. विल्सन (Robert B. Wilson) को ऑक्शन थ्योरी (नीलामी सिद्धांत) में सुधार और नीलामी के नए तरीकों का आविष्कार करने के लिए दिया गया है. 
  • पॉल आर. मिलग्रोम (Paul R. Milgrom) तथा रॉबर्ट बी. विल्सन (Robert B. Wilson)  दोनों अमेरिकी अर्थशास्त्री है
  • अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार को रिजेज रिक्सबैंक प्राइज इन इकोनॉमिक साइंसेज इन मेमोरी ऑफ अल्फ्रेड नोबेल(The Sveriges Riksbank Prize in Economic Sciences in Memory of Alfred Nobel) के नाम से भी जाना जाता है  
  • वर्ष 1969 में अर्थशास्त्र का पहला नोबेल पुरस्कार रैगनर फ्रिश (Ragnar Frisch), जॉन टिनबर्गेन (Jan Tibergen) को प्रदान किया गया था। तब से इसे 51 बार दिया जा चुका है 
  • इलिनार ओस्ट्राम (Elinor Ostrom) वर्ष 2009 में अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार पाने वाली पहली महिला तथा एस्थर डफ्लो (2019) दूसरी महिला हैं।
  • एस्थर डफ्लो अर्थशास्त्र का नोबेल प्राप्त करने वाली सबसे कम उम्र की व्यक्ति हैं।

 

नोबेल  पुरस्कार प्राप्त भारतीय :

ट्रिक- रवि सर हमारे सुबह आम नही बिके अभी 

रवि – रवीन्द्र नाथ टैगोर साहित्य -1913 –साहित्य में नोबेल पाने वाले प्रथम भारतीय

सर-सी.वी. रमन विज्ञान -1930- भौतिकीे  के लिए नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाले पहले भारतीय 

 ह-हरगोविंद खुरानाविज्ञान-1968

मारे-मदर टेरेसाशान्ति-1979

सुबह-सुब्रह्मण्यम चंद्रशेखरविज्ञान – 1983

आम-अमर्त्य सेन –अर्थशास्त्र -1998 –अर्थशास्त्र में नोबेल पाने वाले प्रथम एशियाई

नही- वी. एस.नायपॉलसाहित्य– 2001

बि- वेंकटरमन रामाकृष्ण -विज्ञान– 2009

के-कैलाश सत्यार्थी -शान्ति –2014

अभी- अभिजित बनर्जीअर्थशास्त्र -2019

Download PDF –

PDF को Download करने के लिए यहाँ क्लिक करें 

 

Download Nobel Prize-2020 PDF

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here