Rajasthan GK

राजस्थान के जिले | Districts of Rajasthan

राजस्थान के जिले | Districts of Rajasthan | राजस्थान में जिलों का गठन | राजस्थान के जिलों के उपनाम | राजस्थान के जिलों की आकृति 

राजस्थान में जिलों का गठन

एकीकरण के दौरान 30 मार्च 1949 को राजस्थान में 25 जिले बने थे

26 जनवरी 1950 को संविधानिक रूप से हमारे राज्य का नाम राजस्थान पडा।

राजस्थान अपने वर्तमान स्वरूप में 1 नवंम्बर 1956 को आया। इस समय राजस्थान में कुल 26 जिले थे।

राज्यपाल
राजस्थान में 1 नवम्बर, 1956 को राज प्रमुख का पद समाप्त करके राज्यपाल का पद बनाया गया था।
राजस्थान का प्रथम राज्यपाल सरदार गुरुमुख निहाल सिंह को बनाया गया था।

★ 26 वां जिला – अजमेर-

  • 1 नवम्बर, 1956 तक राजस्थान में कुल 26 जिले थे तथा 26 वां जिला अजमेर था।
  • अजमेर जिला जयपुर अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – सुखाडिया सरकार

1 नवम्बर, 1956 के बाद राजस्थान में राजस्थान में अब तक कुल 7 नये जिले बनाये गये है।

★ 27 वां जिला – धौलपुर-

  • स्थापना- 15 अप्रैल, 1982,
  • धौलपुर जिला भरतपुर जिले से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – शिवचरण माथुर सरकार

★ 28 वां जिला – बारां –

  • स्थापना- 10 अप्रैल, 1991
  • बारां जिला कोटा जिले से काटकर बनाया गया था।
  • बारां जिला कोटा जिले से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – भैरोंसिंह शेखावत सरकार

★ 10 अप्रैल, 1991-

  • राजस्थान में पहली बार एक साथ 3 नये जिले बनाये गये थे – बारा, दौसा तथा राजसमंद
  • तत्कालीन सरकार – भैरोंसिंह शेखावत सरकार

★ 29 वां जिला – दौसा-

  • स्थापना- 10 अप्रैल, 1991
  • दौसा जिला जयपुर जिले से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – भैरोंसिंह शेखावत सरकार

★ 30 वां जिला – राजसमंद-

  • स्थापना- 10 अप्रैल, 1991
  • राजसमंद जिला उदयपुर जिले से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – भैरोंसिंह शेखावत सरकार

★ 31 वां जिला – हनुमानगढ़-

  • स्थापना- 12 जुलाई, 1994
  • हनुमानगढ़ जिला श्री गंगानगर जिले से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – भैरोंसिंह शेखावत सरकार

★ 32 वां जिला करौली-

  • स्थापना- 19 जुलाई, 1997
  • करौली जिला सवाईमाधौपुर जिले से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार – भैरोंसिंह शेखावत सरकार

★ 33 वां जिला – प्रतापगढ़-

  • सबसे नवगठित जिला
  • स्थापना- 26 जनवरी , 2008
  • प्रतापगढ़ जिला बांसवाड़ा, उदयपुर तथा चित्तोड़गढ़ जिलों से अलग होकर नया जिला बना।
  • तत्कालीन सरकार- वसुंधरा सरकार
  • परमेश चंद्र समिति की सिफारिश पर प्रतापगढ़ जिला बनाया गया था।
  • प्रतापगढ़ जिले का गठन 5 तहसीलो को मिलाकर किया गया था। जिनमे 3 तहसील चितौडगढ़ तथा 2 तहसील उदयपुर से ली गई थी

1.अरनोद –  चित्तोड़गढ़ जिले में

2. छोटी सादड़ी –   चित्तोड़गढ़ जिले में
3. प्रतापगढ़ –  चित्तोड़गढ़ जिले में

4. धरियावद – उदयपुर जिले में
5. पीपलखूंट –  बांसवाड़ा जिले में

राजस्थान के जिलों के उपनाम 

राजस्थान के जिलों के प्राचीन नाम | राजस्थान के जिलों के उपनाम PDF Download | राजस्थान में 33 जिलों के नाम | राजस्थान के जिलों की आकृति | राजस्थान के शहरों के उपनाम | राजस्थान के नगरों के उपनाम | राजस्थान के उपनाम

अजमेर-

  • भारत का मक्का
  • राजस्थान का हृदय
  • राजस्थान का नाका
  • अरावली का अभिमान
  • अण्डो कि टोकरी
  • राजपुताने कि कुंजी
  • ख्वाजा साहब नगरी
  • घड़ियों का शहर
  • राजस्थान की शैक्षिक राजधानी

जयपुर-

  • राज.का पेरिस
  • हिरे पन्ने कि नगरी
  • राजस्थान कि विरासत नगरी
  • पूर्व का पेरिस/भारत का पेरिस
  • रंग श्री द्वीप
  • रत्न एवं पन्ना नगरी
  • आइलैंड ऑफ ग्लोरी (सी वी रमन ने कहा)
  • द्वितीय काशी – जयपुर।
  • गुलाबी नगरी (पिंक सिटी) – जयपुर।

जोधपुर-

  • सूर्य नगरी (सन सिटी ऑफ राजस्थान)
  • ब्ल्यू सिटी (नीली नगरी)
  • मरूस्थल/ थार का प्रवेश द्वार
  • किले/दुर्गो का शहर
  • पत्थरों का शहर – जोधपुर
  • राजस्थान की न्यायिक राजधानी
  • आफताब -ए-शहर

जैसलमेर-

  • राजस्थान का सुनहरा शहर
  • राजस्थान कि स्वर्ण नगरी
  • हवेलियो तथा झरोको कि नगरी
  • रेगिस्तान/मरूस्थल का गुलाब
  • पीले पत्थरो का शहर
  • राजस्थान का अण्डमान
  • गलियों का शहर –
  • राजस्थान का शक्ति स्थल – पोकरण (खेतोलाई) परमाणु परीक्षण स्थल, जैसलमेर।
  • राजस्थान का अंडमान
  • म्यूजियम सिटी
  • स्वर्ण नगरी
  • हवेलियों एवं झरोकों की नगरी
  • मांड या  वललभ देश
  • हवेलियों का शहर
  • पीले पत्थरों का शहर
  • सैलानी नगरी

  अलवर-

  • राजस्थान का सिंह द्वार
  • पूर्वि राजस्थान का कश्मीर
  • राज. का वृदावन।
  • राजस्थान का काउंटर मैगनेट
  • राजस्थान का स्कॉटलैंड

  बांसवाड़ा-

  • 100 द्विपो का शहर
  • मानसुन का प्रवेश द्वार
  • आदिवासियो का प्रदेश/ शहर

धौलपुर-

  • रेड डायमंड सिटी
  • राजस्थान का पुर्वी प्रवेश द्वार

 श्री गंगानगर-

  • सरसो का प्रदेश
  • राजस्थान का अन्न का भंडार (अन्न का कटोरा)
  • राजस्थान का आधुनिक विकास तीर्थ

 जालौर-

  • राजस्थान कि ग्रेनाइट सिटी
  • राजस्थान कि सुवर्ण नगर
  • राजस्थान का जालन्दर

 कोटा-

  • राजस्थान का कानपुर
  • चम्बल नगरी
  • औद्योगिक नगरी
  • राजस्थान का नालन्दा
  • शिक्षा का तीर्थ स्थल/शैक्षिक नगरी
  • वर्तमान नालंदा
  • उद्यानों का शहर

भीलवाडा:-

  • टेक्सटाइल सिटी
  • अभ्रक की मंडी
  • तालाबों एवं बांधों की नगरी
  • राजस्थान का मेनचेस्टर
  • राजस्थान की वस्त्र नगरी

टोंक-

  • राजस्थान का नवाबो का शहर
  • टाटा नगरी

उदयपुर-

  • झीलो कि नगरी
  • राजस्थान का कश्मीर
  • पूर्व का वेनिस
  • सैलानियों का स्वर्ग
  • झीलो की नगरी,
  • राज. का कश्मीर
  • मांउटेन-फांउटेन का शहर

डूंगरपुर- पहाड़ो कि नगरी

बाड़मेर- राजस्थान का मरू जिला, मालाणी

भरतपुर-राजस्थान का प्रवेश द्वार

झालावाड़- राजस्थान का नागपुर

झुन्झुनू ( खेतड़ी )- राजस्थान कि ताम्र नगरी

सिरोही– आर्बुद प्रदेश  देवनगरी, चन्द्रनगरी, शिवपुरी

बुंदी:- बावड़ियों का शहर, छोटी काशी

बारां – वराह नगरी

करौली– गोपाल पाल, डांग की रानी

नागौर– राजस्थान का धातु नगर, अहिछत्रपुर, औजारों का शहर

चितौडगढ़– राज. का गौरव ,खिजा्रबाद ,चित्रकूट, भक्ति व शक्ति की नगरी

हनुमानगढ:- भटनेर

प्रतापगढ़:-कांठल

राजस्थान के जिलों की आकृति 

  • राजस्थान की आकृति विषम कोणिय चतुर्भुज अथवा पतंगाकार है ।
  • इसके बारे में सर्वप्रथम बताने वाला विद्वान टी. एच. हेण्डले था ।
  • जैसलमेर –  सात भुजाओं वाले अनियमित बहुभुज
  • जालौर – समुद्र में गोता लगाती मछली ( वहेल मछली )
  • उदयपुर – ऑस्ट्रेलिया के समान ।
  • उदयपुर संभाग –  श्रीलंका के समान ।
  • चितौड़ – घोडे की नाल के समान ।
  • चितौड़ – ईल्ली के समान  ।
  • भीलवाडा – आयताकार  ।
  • धौलपुर व करौली – बतख के समान ।
  • भरतपुर – गिलहरीनुमा है ।
  • सीकर – अर्द्धचन्दाकार/प्याले नूमा/कटोरे नूमा है ।
  • हनुमानगढ – कुर्सी/सोफे/अंग्रेजी के L अक्षर के समान ।
  • जोधपुर – मयूर के समान  ।
  • राजसमंद – तिलक के समान ।
  • अजमेर – त्रिभुजाकार है ।
  • अजमेर संभाग – जम्मू कश्मीर के समान ।
  • टोंक – सम चतुर्भुज अथवा पतंगाकार है जिसके पूर्वी तथा पश्चिमी किनारे अन्दर की ओर धसै हुए है।
  • राजस्थान के खंण्डित जिले हैं- 2 –  अजमेर,चित्तौड़गढ़

राजस्थान के सभी 33 जिले, जिला मुख्यालय, जिले का क्षेत्रफल, तथा  सम्बन्धित मण्डल की सूची

जिला मुख्यालय क्षेत्र (किमी²) मंडल
अजमेर जिला अजमेर 8481 अजमेर
अलवर जिला अलवर 8380 अलवर
बांसवाड़ा जिला बांसवाड़ा 5037 उदयपुर
बारां बारां 6955 कोटा
भरतपुर जिला भरतपुर 5,066 भरतपुर
भीलवाड़ा जिला भीलवाड़ा 10,455 अजमेर
बाड़मेर जिला बाड़मेर 28,387 जोधपुर
बीकानेर जिला बीकानेर 30247, बीकानेर
बूंदी जिला बूंदी 5550 कोटा
चित्तौड़गढ़ जिला चित्तौड़गढ़ 10,856 उदयपुर
चुरु जिला चुरु 16,830 बीकानेर
दौसा जिला दौसा 3432 जयपुर
धौलपुर जिला धौलपुर 3034 भरतपुर
डूंगरपुर जिला डूंगरपुर 3770 उदयपुर
हनुमानगढ़ जिला हनुमानगढ़ 12,645 बीकानेर
जयपुर जिला जयपुर 14,068 जयपुर
जैसलमेर जिला जैसलमेर 38,401 जोधपुर
जालौर जिला जालौर 10,640 जोधपुर
झालावाड़ जिला झालावाड़ 6219 कोटा
झुंझुनू जिला झुंझुनू 5,928 जयपुर
जोधपुर जिला जोधपुर 22,850 जोधपुर
करौली जिला करौली 5530 भरतपुर
कोटा जिला कोटा 12,436 कोटा
नागौर जिला नागौर 17,718 अजमेर
पाली जिला पाली 12,387 जोधपुर
प्रतापगढ़ जिला प्रतापगढ़ 4117 उदयपुर
राजसमंद जिला राजसमंद 4768 उदयपुर
सवाई माधोपुर जिला सवाई माधोपुर 10,527 भरतपुर
सीकर जिला सीकर 7,732 जयपुर
सिरोही जिला सिरोही 5136 जोधपुर
श्रीगंगानगर जिला श्रीगंगानगर 7984 बीकानेर
टोंक जिला टोंक 7194 अजमेर
उदयपुर जिला उदयपुर 17,279 उदयपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *